Wednesday, June 3, 2009

उदयपुर

image रावली की हरी भरी पहाडी़यों से घिरी झीलों के शहर उदयपुर की स्थापना 1599 में महाराजा उदय सिहं ने की थी । झीलों से भरे इस शहर को पूर्व का वेनिस भी कहा जाता है । महलों, झीलों एंव बगीचों के इस शहर का अतीत काफी वैभवपूर्ण रहा है । उदयपुर के प्रमुख स्थल हें सिटी पैलेस, पिछोला लेक, लेक पैलेस, सहेलीयों की बावडी़, जगमंदिर पैलेस, फतेह सागर झील, महाराणा प्रताप स्मारक, भारतीय लोक कला मंडल आदि । udaipur

सिटी पैलेस




सिटी पैलेस की शुरूआत महाराणा उदय सिंह ने 1569 में करवाई उसके बाद के कई शासकों ने इसे अपने-अपने शासन काल में बनवाया । यह महल 11 चरणो में पूरा हुआ लेकिन आश्चर्य यह हे कि इसके कई चरणो में बनने के बावजूद इसमें तनिक भी अंतर नहीं है । सिटी पैलेस चीनी व यूरोपियन वास्तुकला का बेहतरीन नमूना है । किले के अंदर गलियारों, मंडपों, प्रांगणो व लटकते बगीचों का समूह है । इसमें शाही साजोसामान का बडा़ संग्रहालय भी है जिसे आज भी बड़े करीने से सुरक्षित रखा गया है sity palace udaipur rajasthan india



पिछौला लैक

इस झील की खूबसूरती का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता हे कि इसकी खूबसूरती से आकर्शित होकर महाराजा उदय सिहं ने सिटी पैलेस इसके किनारे पर बनवाया था । बद में इस झील का विस्तार हुआ ओर इसके बीच में जल महल, जग मंदिर, जग निवास का निर्माण हुआ । इस खूबसूरत झील में नोका विहार का आनंद भी लीया जा सकता है india rajasthan udaipur



सहेलीयों की बावडी़

उदयपुर की रानीयों व राजकुमारीओं के विश्राम के लीये बनवाई गई थी सहेलीयों की बावडी़ । हरी-भरी वादीयों से घिरे इस विश्राम स्थल में 4 बावडी़यां तथा कई फव्वारे लगे हुए हैं उस समय बिजली व मोटरें नहीं होती थी इसीलीये इसे पिछौला लैक से कम ऊंचाई पर बसाया गया था ताकि पानी के दबाव से फव्वारे खुद ही चलें । ये फव्वारे आज भी बिना किसी पंप के चलते हैं । india rajasthan udaipur


फतेह सागर झील
पिछोला झील के उत्तर में स्थित इस सुंदर झील का निर्माण महाराजा जयसिंह ने 1678 में करवाया था महाराजा फतेह सिंह ने इस झील का पुनर्निर्माण करवाया था इसीलिए इसका नाम फतेह सागर झील पड़ा 3 तरफ़ पहाडियों से घिरी यह झील एक नहर द्वारा पिछोला झील से जुड़ी है झील के बिच में नेहरू पार्क है पार्क में एक खूबसूरत रेस्तरां बना है यहां पहुंचने के लिए नाव का सहारा लेना पड़ता है जो कि किराए पर उपलब्ध रहती है udaipur rajasthan

लैक पैलेस


महाराणा जगत सिंह द्वारा 1746 बनवाया गया यह महल दुनिया के खूबसूरत महलों में से एक माना जाता है । पिछौला झील के बीच जग निवास टापू पर बना यह महल लैक पैलेस के नाम से प्रसिद्ध है । इस महल को 1960 में महाराजा भागवत सिंह ने होटल में तब्दील कर दीया था जो आज आलीशान पॉँच सितारा होटल के रूप में दुनिया भर में मशहूर है । आम पर्यटकों के लीये इस महल में प्रवेश पर रोक है फ़िर भी मोटर बोट द्वारा इस महल की खूबसूरती को देखा जा सकता है । udaipur


जग मंदिर पैलेस
पिछौला झील के दछिणी किनारे की तरफ़ एक टापू पर बने इस खूबसूरत महल का निर्माण 1620 में राणा जगत सिंह द्वारा करवाया गया था । दूर से देखने पर संगमरमर और पीले बलुआ पत्थरों से बना यह सुंदर महल दिन की खिली धूप में सोने के समान चमकता है । udaipur



भारतीय लोक कला मंडल
राजस्थान के एतिहासिक संस्कृति को प्रदर्षित करता यह संग्रहालय अन्य संग्रहालयों से अलग है । यहाँ राजिस्थानी पहनावे , गहने , मुखोटे , वाध्य यंत्र , कठपुतलियों और खूबसूरत चित्रकारियों का दुर्लभ संग्रह है । यहाँ का मुख्य आकर्षण कठपुतली शो है जो कि रोज समय - समय पर दिखाए जाते हैं । rajasthan udaipur

4 comments:

P.N. Subramanian June 3, 2009 at 2:30 PM  

बहुत ही सुन्दर है उदैपुर का वर्णन. चित्र कुछ बड़े होते तो और मजा आ जाता

P.N. Subramanian June 3, 2009 at 2:31 PM  

बहुत ही सुन्दर है उदैपुर का वर्णन. चित्र कुछ बड़े होते तो और मजा आ जाता

P.N. Subramanian June 3, 2009 at 2:31 PM  

बहुत ही सुन्दर है उदैपुर का वर्णन. चित्र कुछ बड़े होते तो और मजा आ जाता

Blog Widget by LinkWithin

  © Blogger templates Psi by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP